Mbbs Kitne Saal Ka Hota hai, Course Fees, Subject,Salary की जानकारी।

आप भी एक डॉक्टर बनने का सपना देख रहे है। और एक अच्छी डिग्री पाकर इस कोर्स को करना चाहते है। तो हम आपको इस आर्टिकल में Mbbs Kitne Saal Ka Hota hai और mbbs me kitne subject hote hai तथा इस कोर्स को करने के लिए आपको mbbs ki fees kitni hai जानना है। तो हम आपको जानकारी देंगे। अगर आप एक डॉक्टर बन जाते है,तो mbbs ki salary kitni hoti hai यह भी बताएंगे।

एमबीबीएस का कोर्स सबसे कठिन कोर्स माना जाता है। क्योंकि इस कोर्स को करने के लिए सबसे पहले आपको NEET की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होती है। NEET का एक्जाम भी एमबीबीएस कोर्स की तरह ही काफी कठिन होता है। और इस कोर्स को करने के लिए आपको neet exam क्लियर करना होता है। सबसे पहले आपको हम MBBS कितने साल का होता है? जान लेते है।

 

Mbbs Kitne Saal Ka Hota hai एमबीबीएस कितने साल का होता है?

एमबीबीएस कोर्स को करने के लिए आपको कम से कम 5 साल से लेकर 5 साल 6 महीने तक का समय लग सकता है। अतः एमबीबीएस 5.5 साल का होता है। क्योंकि इसमें आपको 1 साल को इंटर्नशिप कराई जाती है। इसलिए इस कोर्स की अवधि 5 साल 6 महीने की होती है।

एमबीबीएस का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ सर्जरी है। तथा एमबीबीएस भी एक स्नातक ग्रेजुएशन डिग्री है। इसको करने के लिए आपके पास 12th की परीक्षा बायोलॉजी ग्रुप से पास होनी चाहिए। इसके बाद आपको नीट की परीक्षा पास कर आप एमबीबीएस के कॉलेज में एडमिशन लेकर इस कोर्स को कर सकते है। और एमबीबीएस कोर्स में आपको इंटर्नशिप करना अनिवार्य होता है।

MBBS Me Kitne Subject Hote Hai एमबीबीएस में कितने विषय होते है?

MBBS Me Kitne Subject Hote Hai
MBBS Me Kitne Subject Hote Hai

एमबीबीएस के इन 5 सालो में आपको 19 विषय की जानकारी दी जाती है। तथा एमबीबीएस की पढ़ाई में 9 सेमेस्टर होते है। इसके अंतर्गत आपको क्लीनिकल और पैराक्लीनिकल विषय की जानकारी दी जाती है। तथा साथ ही साथ आपको 1 साल की रोटेशनल इंटर्नशिप (Rotational Internship MBBS) भी शामिल होती है। एमबीबीएस में सभी विषय को 3 भागों में बताकर आपको पढ़ाया जाता है

फेज सेमेस्टर एमबीबीएस विषय
प्री क्लीनिकल फेज 1-2 एनाटॉमी, बायोकेमिस्ट्री, फिजियोलॉजी
पैरा क्लीनिकल फेज 3-5 फॉरेंसिक मेडिसिन, पैथोलॉजी, फार्माकोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी, क्लीनिकल पोस्टिंग इन वॉर्ड्स, OPDs
क्लीनिकल 6-9 मेडिसिन एंड अलाइड सब्जेक्ट्स (साइकाइट्री, डर्मेटोलॉजी); ऑब्स्टेट्रिक्स, गायनी; पीडियाट्रिक्स; सर्जरी एंड अलाइड सब्जेक्ट्स (एनेस्थिसियोलॉजी, E.N.T, ऑप्थल्मोलॉजी, ऑर्थोपेडिक्स); क्लीनिकल पोस्टिंग्स

 

MBBS Ki Fees Kitni Hai एमबीबीएस की फीस कितनी होती है?

वैसे किसी भी कॉलेज की फीस कॉलेज की प्रतिष्ठा , सुविधाएं तथा राज्यो पर निर्भर हो सकती है। किंतु हम आपको भारत के टॉप 10 कॉलेज की सूची दे रहे है। जिससे आप इन कॉलेज की फीस पता कर सकते है। किंतु आपको इन कॉलेज में एडमिशन लेने से पहले एक बार कॉलेज में जाकर फीस की जानकारी ले सकते है।

College Type Approximate Fees (per annum)
AIIMS, New Delhi Public ₹1,628
CMC, Vellore Private ₹3,85,000
AFMC, Pune Public ₹64,000
MAMC, New Delhi Public ₹1,628
JIPMER, Puducherry Public ₹1,450
KGMU, Lucknow Public ₹80,000
Grant Medical College, Mumbai Public ₹8,000
Seth G.S. Medical College, Mumbai Public ₹6,000
BMCRI, Bangalore Public ₹15,000
KMC, Manipal Private ₹12,50,000

 

MBBS Ki Salary Kitni Hoti Hai एमबीबीएस की सैलरी कितनी होती है?

एमबीबीएस करने के बाद आपको सरकारी और प्राइवेट हॉस्पिटल में अच्छी खासी सैलरी मिलती है। जो की लाखों में होती है। किंतु आपको सैलरी इस बात पर निर्भर करती है। की हॉस्पिटल और आप किस फील्ड में स्पेशलाइज्ड है। क्योंकि अच्छे हॉस्पिटल में आपको अच्छी खासी सैलरी मिलती है। Mbbs की सैलरी 30 से 50 लाख सालाना हो सकती है। अतः आपको 2 से 3 लाख रुपए प्रति महीने सैलरी हो सकती है।

एमबीबीएस करने के बाद क्या करे?

एमबीबीएस की डिग्री हासिल करने के बाद आपको चिकित्सा के क्षेत्र में विभिन्न विकल्प खुल जाते है। तथा अपने कैरियर को आगे बड़ाने के लिए सभी एमबीबीएस डिग्री धारक अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ बन सकते है। जैसे की कार्डियोलॉजिस्ट, गाइनेकोलॉजिस्ट, ऑर्थोपेडिकन, मनोचिकित्सक जैसी फील्ड में विशेषज्ञ बन सकते है। अगर यह सब नहीं करना चाहते तो आप अपना क्लीनिक खोलकर जनरल फिजिशियन बन सकते है।

साथियों आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अगर पसंद आई है। तो आप इसे अपने दोस्तो के साथ शेयर कर सकते है। तथा इसी प्रकार की जानकारी पाते रहने के लिए हमसे जुड़े रहे।

Read More –JEE Advanced Kya Hota Hai in Hindi Pdf पूरी जानकारी 2023 PDF| Full Detail

Leave a comment